सोमवार, 2 मई 2011

'मरू-भूमि राजस्थान की यात्रा'

'मरू-भूमि राजस्थान'
राजस्थान, अर्थात राजाओं की भूमि भारत का सबसे बड़ा राज्य है | राज्य की राजधानी जयपुर जो प्यार से भारत का गुलाबी शहर के रूप में जाना जाता है | राजस्थान भारत गणराज्य का क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा राज्य है। इसके पश्चिम में पाकिस्तान, दक्षिण-पश्चिम में गुजरात, दक्षिण-पूर्व में मध्यप्रदेश, उत्तर मेंपंजाब, उत्तर-पूर्व में उत्तरप्रदेश और हरियाणा है। राज्य का क्षेत्रफल 3,42,239 वर्ग कि.मी. (1,32,139 वर्ग मील) है ।



राजस्थान विधान-सभा भवन,जयपुर


राजस्थान शाही और ऐतिहासिक भारतीय राज्य एक विश्व स्तर पर प्रसिद्ध इसके आकर्षण के साथ पर्यटन स्थल के रूप में उभरा है | भारत में सर्वाधिक लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक. राजस्थान भारत का सबसे बड़ा राज्य और अपनी अनूठी सांस्कृतिक और भौगोलिक विशेषताओं के लिए विश्व स्तर पर प्रसिद्ध है. अजेय किलों, महलों की भयानक कहानियां, मंदिरों और राज्य के विभिन्न स्थानों में बनी हवेलियों में गर्व से समृद्ध संस्कृति और राज्य के गौरवशाली इतिहास को चित्रित करते चित्र, महान भारतीय सांस्कृतिक विरासत का उत्कृष्ट उदाहरण हैं | 


'राजस्थान के अलवर शहर से लगभग 86 कि. मी. की दूरी पर स्थित भानगढ'


रंगीन मेलों और उत्सवों से पर्यटकों को समृद्ध संस्कृति और देश की परंपरा का पता चलता है | सुन्दर पहाड़ियों, सुंदर झीलों, रेगिस्तान, रेत टिब्बा, वन, जंगल की आग पार्क और अभयारण्यों, आदि राजस्थान की भौगोलिक विशेषताओं के लिए विशेष आकर्षण हैं |
राजस्थान में यात्रा पर्यटकों के लिए भव्य किलों, महलों और स्मारकों की जीवन रेखा हैं, जो जीवन को निकट से देखने का अवसर प्रदान करती है | राजस्थान यात्रा और पर्यटन पर पर्यटकों को वन्यजीव (rippling) रेत टिब्बा करने का अवसर है |


'माउंटआबू (राजस्थान) के दिलवाड़ा जैन मंदिर'


राजस्थान में लगभग सभी प्रमुख शहरों और पर्यटक स्थलों स्मारक यहाँ की संपन्न एवं भव्य भारतीय सांस्कृतिक विरासत का उत्कृष्ट उदाहरण हैं | स्मारकों में यहाँ शानदार किलों, अजेय महल, भव्य हवेलियों, सुंदर महलों, भव्य मंदिरों, भयानक जौहर-स्थल , समृद्ध संग्रहालयों, सिटी पैलेस, हवा महल और जयपुर में एम्बर किले दुनिया भर में मशहूर रहे हैं | जैसलमेर में स्वर्ण किला, उदयपुर के निकट कुम्भलगढ़ किले, झील बीकानेर में उदयपुर, मेहरानगढ़ किले एवं जोधपुर, जूनागढ़ किले और लालगढ़ पैलेस में उम्मेद भवन पैलेस में पैलेस, माउंट आबू, दरगाह अजमेर शरीफ में दिलवाड़ा जैन मंदिर, आदि |


'रणथंभौर नेशनल पार्क'


वन्य जीवन यात्रा राजस्थान पर्यटकों प्रसिद्ध राष्ट्रीय पार्क और भारत के वन्य जीवन अभयारण्यों में से कुछ के लिए एक अदभुत्त अवसर देते हैं | रणथंभौर नेशनल पार्क, सरिस्का टाइगर रिजर्व, माउंट आबू वन्यजीव अभयारण्य, डेजर्ट नेशनल पार्क, ताल छप्पर कृष्णमृग अभयारण्य, दर्रह अभयारण्य, सीता माता वन्यजीव अभयारण्य, आदि राज्य में वन्य जीवन पर्यटन के लिए लोकप्रिय स्थलों में हैं | रणथंभौर नेशनल पार्क से एक उनके प्राकृतिक परिवेश में शाही बंगाल टाइगर देखने के लिए भारत में बेहतरीन स्थानों में से एक है | पार्क रॉयल बंगाल बाघों की बड़ी आबादी के लिए उल्लेख किया है | 


'केवलादेव घाना राष्ट्रीय उद्यान (पूर्व भरतपुर पक्षी अभयारण्य)'


केवलादेव घाना राष्ट्रीय उद्यान (पूर्व भरतपुर पक्षी अभयारण्य के रूप में जाना जाता है) एक यूनेस्को विश्व प्राकृतिक विरासत स्थल है | यह एक पक्षी देखने के लिए भारत में बेहतरीन स्थानों में से एक है |


'ऊंट रेगिस्तान अभियान'
ग्रेट इंडियन डेजर्ट - दुनिया भर से पर्यटकों का आकर्षण रेगिस्तान रेत टिब्बा (rippling.) रेगिस्तान कैम्पिंग, ऊंट सफारी रेत टिब्बा, ऊंट रेगिस्तान अभियान, आदि करने के लिए अपने राजस्थान के रेगिस्तान के विकास पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं | राजस्थान और यंहां की भव्य एतिहासिक विरासत, वन्य जीवन और रेत टिब्बा का आनंद लेने पर्यटक आते हैं, तो उनकी राजस्थान-यात्रा उनके जीवन का एक अद्वितीय अनुभव होगी |

1 टिप्पणी:

  1. ये सच में एक बहुत ही अच्छा ब्लॉग है, में इस ब्लॉग को बहुत ही एन्जॉय किया और अगले महीने जाने की भी सोच रहा हु । उमीद करता हु की राजस्थान टूर को भी एन्जॉय करूँगा ।

    उत्तर देंहटाएं